आदमी अपनी चप्पल चोरी की पुलिस में शिकायत दर्ज करता है

पुणे के खेड़ तहसील के रक्शेवाडी के निवासी विशाल काळेकर, एक पुलिस स्टेशन जाकर रिपोर्ट करते है कि उनकी चप्पल अपने घर के बाहर से चोरी हो गई थी।

0
430

हालांकि, हम में से कई लोगों ने ऐसी स्थिति का सामना किया हो, जहां पुलिस चोरी या डकैती की वास्तविक शिकायत दर्ज करने में देरी कर रही है, पुणे ग्रामीण पुलिस ने इसके लिए एक अपवाद साबित किया है।

एक व्यक्ति के लापता चप्पल के मामले को पुलिस ने पर्याप्त गंभीर माना।

एक विचित्र उदाहरण में, पुणे जिले के खेड़ तहसील के रक्शेवाडी के निवासी विशाल कालेकर 3 अक्टूबर को एक पुलिस थाने पर रिपोर्ट करने के लिए चले गए कि उनकी ब्रांड नीउ चप्पल उनके अपार्टमेंट के बाहर से चोरी हो गई थी और एफआईआर दाखिल करने का आग्रह किया।

36 वर्षीय काळेकर ने ऐसा करने पर जोर दिया और खेड़ पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ आईपीसी की धारा 379 के तहत चोरी का मामला दर्ज किया, एक पुलिस अधिकारी ने कहा।

कालेकर खेड़ में ताकलकरवाड़ी रोड पर पलाश रेसिडेन्सी अपार्टमेंट के तीसरे मंजिल पर रहता हैं।

खेड़ पुलिस थाने के निरीक्षक प्रदीप जाधव ने बताया, “हमने इस मामले में चोरी का अपराध दर्ज किया है और हमारी जांच चल रही है।”

यह पूछे जाने पर कि क्या उन्होंने अतीत में ऐसे उदाहरणों का सामना किया था, अधिकारी ने कहा कि कोई नहीं कह सकता कब कौन किस तरह की शिकायत के साथ आएगा

“अब तक, हम केवल यह कह सकते हैं कि अज्ञात लोगों के खिलाफ चोरी का अपराध दर्ज किया गया है और कोई भी अभी तक गिरफ्तार नहीं हुआ है”।

शिकायत के अनुसार, यह घटना 3 अक्तूबर, सुबह के 3 और 8 बजे के बीच हुई, जब कुछ अज्ञात व्यक्ति इमारत के अंदर आये और कथित तौर पर 425 रूपए के नए काले सैंडल को ले गए, एक अधिकारी ने कहा।

कालेकर पुलिस से संपर्क करने के बाद, ऑन-ड्यूटी अधिकारी वाई एम गायकवाड़ ने चोरी का अपराध दर्ज किया और कालेकर को पहली सूचना रिपोर्ट (एफआईआर) की एक प्रत दी गई।

खेड़ पुलिस स्टेशन के अधिकारियों ने पुष्टि की कि पुलिस नाईक एसएम ढोले मामले की जांच कर रहे थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here