श्रेयस अय्यर ने इस मुकाम पर आने के लिए बहाया है खूब पसीना, भूखे रहकर गुजारी है कई रातें

भारतीय क्रिकेट टीम में पिछले कुछ समय में एक से बढ़कर एक प्रतिभाशाली बल्लेबाज आए हैं और ऐसे ही बल्लेबाजों में नाम शामिल होता है श्रेयस अय्यर का जिन्होंने पिछले कुछ समय में भारतीय टीम के मध्यक्रम बल्लेबाज की भूमिका बहुत शानदार तरीके से संभाल ली है। श्रेयस अब भारतीय क्रिकेट टीम के भरोसेमंद बल्लेबाज बन चुके हैं और मध्यक्रम में जब वह बल्लेबाजी करते नजर है तो कहीं ना कहीं हर किसी को यह बात पता होती है की श्रेयस विकेट संभाल कर भारत को मुश्किलों से उबार लेंगे। इस खिलाड़ी ने कम समय में अपनी बल्लेबाजी शैली में भी सुधार कर ली है लेकिन आपको बता दें कि श्रेयस अय्यर के लिए यह सब पाना इतना आसान नहीं था। आइए आपको बताते हैं कैसे श्रेयस अय्यर ने कई रात भूखे रहकर अपने क्रिकेट खेलने के इस सपने को पूरा किया है।

श्रेयस अय्यर कई रात रह जाते थे भूखे

श्रेयस अय्यर ने इस मुकाम पर आने के लिए बहाया है खूब पसीना, भूखे रहकर गुजारी है कई रात

भारतीय क्रिकेट टीम के स्टार बल्लेबाज श्रेयस अय्यर जब कभी भी मैदान में बल्ला लेकर उतर रहे हैं तब वह शानदार तरीके से रन बनाकर ही वापस आ रहे हैं और आपको बता दें कि भारतीय क्रिकेट टीम में आने के पहले रणजी ट्रॉफी में भी श्रेयस ने अपने बल्ले से खूब धमाल मचाया था। यह खिलाड़ी रणजी ट्रॉफी में खेलने के अलावा दिल्ली की तरफ से कप्तानी भी करता है और आपको बता दें कि जब श्रेयस क्रिकेट खेलने का अभ्यास किया करते थे तब उनके परिवार की हालत ऐसी नहीं थी कि वह उनका खर्च उठा सके जिसकी वजह से आने जाने का वह भाड़ा भी नहीं जुटा पाते थे। आइए आपको बताते हैं कैसे अपने सभी संघर्षों को पार करते हुए श्रेयस अय्यर आज जब नामी खिलाड़ी बन चुके हैं तब अपने परिवार के साथ खूब समय गुजारते हैं।

भारत के अगले कप्तान बन सकते हैं श्रेयस अय्यर

श्रेयस अय्यर ने इस मुकाम पर आने के लिए बहाया है खूब पसीना, भूखे रहकर गुजारी है कई रात

भारतीय क्रिकेट टीम के बेहतरीन युवा खिलाड़ियों में से एक श्रेयस अय्यर का नाम आने वाले समय में भारतीय टीम के कप्तान के रूप में भी लिया जा रहा है। दरअसल रोहित शर्मा के बाद एकदिवसीय मुकाबले में भारतीय टीम की कप्तानी कौन करेगा यह बात हर किसी को जानना है और श्रेयस अय्यर की कप्तानी शैली इतनी शानदार है कि सभी लोगों ने उन्हें आईपीएल में कप्तानी करते हुए देखना चाहते हैं। हालांकि श्रेयस ने खुद बताया कि यह सब उन्हें उनकी मेहनत के दम पर प्राप्त हुआ है क्योंकि एक समय में जब उनके पास आने जाने का भाड़ा नहीं होता था तो रात को वह स्टेशन पर ही सो जाया करते थे जिससे उनके पास पैसे बच जाए और वह कुछ खा सकें। जिस किसी ने भी अय्यर के इस संघर्ष को सुना है तो वह उनके आगे नतमस्तक हो गया है।

About Shubham Tiwari

नमस्कार! में एक डिजिटल पत्रकार हूँ जो बॉलीवुड न्यूज़ में रुचि रखता है और अपने पाठकों को बॉलीवुड की रोचक जानकारियों से रूबरू करवाता है। अगर आपको मेरे द्वारा लिखे गए लेख पसंद आ रहे हैं तो मुझे फ़ॉलो करके अच्छे लेख लिखने के लिए प्रोत्साहित करें।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *